Books written by Ravikant at best prices | Best of Ravikant (4 books)

Aaj ke Aaine Me Rashtravad

Aaj ke Aaine Me Rashtravad

जब सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और थोथी देशभक्ति के जुमले उछालकर जेएनयू को बदनाम किया जा रहा था, तब वहाँ छात्रों और अध्यापकों द्वारा राष्ट्रवाद को लेकर बहस शुरू की गई। खुले में होने वाली ये बहस राष्ट्रवाद पर कक्षाओं में तब्दील होती गई, जिनमें जेएनयू के प्राध्यापकों के अलावा अनेक रचनाकारों और जन-आन्दोलनकारियों ने राष्ट्रवाद पर व्याख्यान दिए। इन व्याख्यानों में राष्ट्रवाद के स्वरूप, इतिहास और समकालीन सन्दर्भों के साथ उसके खतरे भी बताए-समझाए गए।
राष्ट्रवाद कोई निश्चित भौगोलिक अवधारणा नहीं है। कोई काल्पनिक समुदाय भी नहीं। यह आपसदारी की एक भावना है, एक अनुभूति जो हमें राष्ट्र के विभिन्न समुदायों और संस्कृतियों से जोड़ती है। भारत में राष्ट्रवाद स्वाधीनता आन्दोलन के दौरान विकसित हुआ। इसके मूल में साम्राज्यवाद-विरोधी भावना थी। लेकिन इसके सामने धार्मिक राष्ट्रवाद के खतरे भी शुरू से थे। इसीलिए टैगोर समूचे विश्व में राष्ट्रवाद की आलोचना कर रहे थे तो गाँधी, अम्बेडकर और नेहरू धार्मिक राष्ट्रवाद को खारिज कर रहे थे।
कहने का तात्पर्य यह कि राष्ट्रवाद सतत् विचारणीय मुद्दा है। कोई अंतिम अवधारणा नहीं। यह किताब राष्ट्रवाद के नाम पर प्रतिष्ठित की जा रही हिंसा और नफरत के मुकाबिल एक रचनात्मक प्रतिरोध है. इसमें जेएनयू में हुए तेरह व्याख्यानों को शामिल किया गया है। साथ ही योगेन्द्र यादव द्वारा पुणे और अनिल सद्गोपाल द्वारा भोपाल में दिए गए व्याख्यान भी इसमें शामिल हैं।

Media Ki Bhasha Leela

Media Ki Bhasha Leela

Media Ki Bhasha Leela [Hardcover] [Jan 01, 2016] Ravikant

Diwane-A-Saray 02: Media Vimarsh/Hindi Janpad

Diwane-A-Saray 02: Media Vimarsh/Hindi Janpad

The capability of reading and other Personal skills get improves on reading this book DeewanESarai Shaharnama by Ravikant.This book is available in Hindi with high quality printing.Books from Social Science category surely gives you the best reading experience.

Books written by Ravikant at best prices | Best of Ravikant (4 books)

Books written by Ravikant at best prices | Best of Ravikant (4 books) Price
Aaj ke Aaine Me Rashtravad Rs. 180.0
Media Ki Bhasha Leela Rs. 644.0
Deewan -A-Sarai 02: Shaharnama Rs. 200.0
Diwane-A-Saray 02: Media Vimarsh/Hindi Janpad Rs. 450.0

Bot